पद्मश्री बाबा योगेंद्र को विभिन्न गणमान्य लोगों ने दी श्रद्धाजंलि

 हरिद्वार। संस्कार भारती के अखिल भारतीय संस्थापक संरक्षक पद्मश्री बाबा योगेंद्र को रविवार को माधव हॉल सरस्वती शिशु-विद्या मंदिर सेक्टर दो भेल में श्रद्धाजंलि दी गई। इसके पश्चात विद्या मंदिर से अस्थि कलश यात्रा शुरू होकर हरकी पैड़ी पर अस्थि विसर्जन किया। इससे पहले सरस्वती शिशु विद्या मंदिर में शंकराचार्य स्वामी राजराजेश्वराश्रम महाराज ने कहा कि बाबा योगेंद्र के साथ उनका अच्छा समन्वय रहा,बड़े पैमाने पर उनके संस्करण भी है। जिनको सुनाना शुरू करें तो कई दिन लग जाएंगे। शंकराचार्य स्वामी राजराजेश्वराश्रम महाराज ने कहा कि बाबा योगेंद्र एक सरल स्वभाव के व्यक्ति थे। संस्कार भारती में उनको कार्यभार दिया गया,यह उनकी संस्कारों की जीत थी। बाबा योगेंद्र को एक प्रोजेक्ट दिया गया। जिसमें उन्होंने देश भक्ति का जुनून दिल में लिए गांव गांव जाकर शिक्षा वर्ग,कला वर्ग आदि कार्य किए। उन्होंने कहा कि बाबा योगेंद्र को जब-जब जो-जो संसाधन मिले उन्हीं संसाधनों में संगठन को खड़ा किया। संस्कार भारती के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष बांकेलाल गौड़ ने कहा कि बाबा योगेंद्र के साथ मेरी आत्मीयता कुछ इस तरह थी कि वह एक बार मेरे घर पर आए, मैंने कहा बाबा मेरा घर ऊंचाई पर है। बैठने की व्यवस्था नहीं है। उन्होंने हंसकर कहा घर तो है ना। इस दौरान अखिल भारतीय लोक कला सह संयोजक गिरीश चंद्र मिश्र, आरएसएस प्रांत प्रचारक युद्धवीर,संस्कार भारती पश्चिम उत्तर प्रदेश,उत्तराखंड क्षेत्र प्रमुख देवेन्द्र रावत, प्रांतीय महामंत्री पंकज अग्रवाल,जिला संघचालक कुंवर रोहतास सिंह,संस्कार भारती की प्रदेश अध्यक्ष और भाजपा विधायक सविता कपूर देहरादून,भाजपा राज्यसभा सांसद डॉ.कल्पना सैनी,संस्कार भारती हरिद्वार जिलाध्यक्ष डॉ.अर्जुन नागयान,महानगर अध्यक्ष करण सिंह सैनी, महामंत्री अमित गुप्ता,कार्यकारी अध्यक्ष डॉ.गिरीश चंद्र शर्मा, सह संपर्क प्रमुख राकेश मालवीय, प्रांत साहित्य विद्या प्रमुख राजकुमार उपाध्याय,प्रांत कोषाध्यक्ष अभिषेक पाठक,प्रदेश मंत्री सुनील कुमार चैहान,भाजपा जिलाध्यक्ष डॉ.जयपाल सिंह चैहान,जिला मीडिया प्रभारी प्रवीण कुमार, जगदीश लाल पाहवा सहित केंद्रीय व प्रान्तीय पदाधिकारी उपस्थित रहे।