कार लूटकर भागे दो सगे भाईयो को नगर कोतवाली पुलिस ने दबोचा

 


हरिद्वार। हरियाणा से लग्जरी कार लूटकर फरार हुए आरोपी दो सगे भाई को रोड़ीबेलवाला पुलिस के ने चैंकिग के दौरान गिरफ्रतार कर लिया। चैकी पुलिस ने लूटी गई कार एवं दोनों आरोपी भाईयों को यहां पहुंची हरियाणा पुलिस के सुपुर्द कर दिया। डीआईजी-एसएसपी डॉ योगेंद्र सिंह रावत ने रोड़ीबेलवाला चैकी पुलिस की पीठ थपथपाई है। नगर पुलिस अधीक्षक स्वतंत्र कुमार सिंह के अनुसार रविवार देर शाम रोड़ीबेलवाला चैकी पुलिस को सूचना मिली की चण्डीगढ़ हाइवे पर शिमला निवासी अरूण कुमार से चाकू की नोक पर कार लूटकर फरार हो गए,जो समय इस पर रोड़ी बेलवाला चैकी प्रभारी एसआई अंशुल अग्रवाल मय फोर्स पार्किंग में पहुंचे। जहां बतायी गयी कार में मौजूद मिले दो लोगों विकास व आशु पुत्र मांगेराम निवासी मुनक करनाल को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में उन्होंने बताया कि उन्होंने अपने तीन अन्य साथियों के साथ मिलकर कार लूट की वारदात को अंजाम दिया है।सूचना मिलने पर चैकी प्रभारी अंशुल अग्रवाल की अगुवाई में पहुंची पुलिस टीम ने कार बरामद करते हुए दोनों आरोपियों को पकड़ लिया। चैकी लाकर की गई पूछताछ में सामने आया कि 19 मई को अरुण कुमार पुत्र सुभाष चंद निवासी शिमला हिमाचल प्रदेश से चंडीगढ़ हाईवे पर धारदार हथियार की नोंक पर चार युवकों ने कार लूट ली थी। बताया कि आरोपियों के नाम विकास एवं आशु पुत्रगण मांगेराम निवासी मुनक करनाल हरियाणा है। एक आरोपी विकास खुद को चंडीगढ़ पंजाब का अधिवक्ता बता रहा था और उसका आपराधिक इतिहास भी सामने आया है। बताया कि आरोपियों को बलदेवनगर थाने से एसआई लालचंद की अगुवाई में यहां पहुंची पुलिस टीम के हवाले कर दिया गया।  पुलिस टीम में कोतवाली प्रभारी निरीक्षक राकेंद्र कठैत, रोड़ी बेलवाला चैकी प्रभारी एसआई अंशुल अग्रवाल,कांस्टेबल मुकेश चैहान,अरविंद नेगी, अनिल कंडारी,शिवराज शर्मा शामिल रहे।