एनयूजे (आई) के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष पीके राय का निधन, पत्रकार जगत में शोक

 हरिद्वार। नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स इंडिया के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रामचंद्र कनौजिया ने पीके राय के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए कहा कि उनके निधन से पत्रकारिता जगत की अपूरणीय क्षति हुई है। पीके राय ने एनयूजे (आई) और उपजा संगठन में पदों पर रहते हुए सदैव पत्रकारों के हित में कार्य किया। एनयूजे (आई) सदैव उनका ऋणी रहेगा। गौरतलब है कि नेशनल यूनियन ऑफ जर्नलिस्ट्स इंडिया के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं वरिष्ठ पत्रकार दादा पीके राय का बीमारी के चलते निधन हो गया। शनिवार को पूर्वान्ह 11 बजे मुंबई एक चिकित्सालय में उन्होंने अंतिम सांस ली। स्व. राय एनयूजे और उपजा के अध्यक्ष रहे। इन दिनों मुम्बई में बेटे के पास रहकर स्वास्थ्य लाभ कर रहे थे। यूनियन के प्रदेश कोषाध्यक्ष विकास कुमार झा ने कहा कि हरिद्वार में आयोजित राष्ट्रीय सम्मेलन में उनसे मिलने का सौभाग्य प्राप्त हुआ था। पीके राय स्पष्ट विचारों वाले व्यक्ति थे। पत्रकारिता के क्षेत्र में उनके द्वारा दिए गए योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता। एनयूजे (आई) के राष्ट्रीय नेता सुनील दत्त पांडेय, प्रदेश अध्यक्ष कैलाश जोशी, प्रांतीय नेता बृजेन्द्र हर्ष, महासचिव सुशील कुमार त्यागी, प्रांतीय संरक्षक ब्रह्मदत्त शर्मा, प्रदेश उपाध्यक्ष काशीराम सैनी, गुलशन नैय्यर, संयोजक धर्मेंद्र चैधरी, जयपाल सिंह,निशांत चैधरी,संतोष कुमार,राव सियासत पुंडीर,डॉ सुशील उपाध्याय, अमित कुमार शर्मा,आनंद गोस्वामी,विकास चैहान, डॉ शिवा अग्रवाल, ठाकुर शैलेंद्र सिंह, विवेक शर्मा, रामेश्वर शर्मा, प्रशांत शर्मा सहित अन्य सदस्यों ने अपनी श्रद्धांजलि दी।