कुट्टू के आटे से बने पकवान खाने से 122 लोग बीमार,विभिन्न अस्पतालों में भर्ती

 स्वास्थ्य मंत्री,भाजपा प्रदेश अध्यक्ष,जिलाधिकारी सहित कई पहुचे अस्पताल,जाना हाल


हरिद्वार। चैत्र नवरात्रा के पहले दिन ही कुट्टू के आटे से बने पकवान खाने से हरिद्वार के अलग अलग क्षेत्रों में करीब 122 लोग बीमार हो गए। सभी बीमार लोगों को हरिद्वार के जिला अस्पताल, कनखल स्थित रामकृष्ण मिशन,भूमानंद और श्यामपुर कांगड़ी स्थित निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया। संभावना है कि मरीजों की संख्या बढ़ भी सकती है। जिलाधिकारी ने कुट्टू के आटे की बिक्री पर रोक लगाने के निर्देश जारी कर दिए हैं। साथ ही जांच में दोषी पाए जाने वालों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की बात जिलाधिकारी ने कही है। दूसरी ओर कुटट्ू के आटे से बने पकवान खाने से बीमार होने की सूचना मिलते ही राज्य के स्वास्थ्य मंत्री डाॅ0 धन सिंह रावत,भाजपा प्रदेश अध्यक्ष मदन कौशिक,विधायक रविबहादुर,पूर्व विधायक स्वामी यतिश्वरानंद के अलावा जिलाधिकारी ने अस्पताल पहुचकर बीमार लोगों का हाल-चाल पूछा और दोषियों के खिलाफ कड़ी कारवाई का आश्वासन दिया। चैत्र नवरात्रा के पहले नवरात्र पर व्रत रखने वाले कई लोगों ने शनिवार रात में कुट्टू के आटे की पकौड़ी, रोटी और पूरी खाई। लेकिन रात में ब्रह्मपुरी में बहुत से लोगों को उल्टी, पेट खराब और कंपकंपी की शिकायत होने लगी। इसके बाद शनिवार रात करीब एक बजे इक्का-दुक्का मरीज जिला अस्पताल पहुंचने लगे। जिनका इलाज कर चिकित्सकों ने उन्हें घर भेज दिया। रविवार तड़के चार बजे तक ब्रह्मपुरी और श्यामपुर कांगड़ी से ऐसे ही मरीजों की संख्या लगातार बढ़ने लगी और लोग अलग-अलग अस्पताल पहुंचने लगे। सीएमओ डॉ. कुमार खगेंद्र सिंह ने बताया कि जिला और मेला अस्पताल में कुल भर्ती मरीजों की संख्या 78 है। कनखल स्थित रामकिशन मिशन अस्पताल में 14,हरिद्वार-रुड़की हाइवे स्थित अस्पताल में 18 और श्यामपुर स्थित निजी अस्पताल में करीब 15 लोग भर्ती हैं। वही जिलाधिकारी ने विनय शंकर पांडेय ने कहा कि कुट्टू का आटा कहां से खरीदा गया इसकी जांच के लिए आदेश दे दिए गए हैं। जांच में जो भी दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई की जाएगी।