एचआरडीए सचिव से की गंगा किनारे किए जा रहे अवैध निर्माण पर कार्रवाई की मांग

 हरिद्वार। सामाजिक सेना के राष्ट्रीय प्रमुख स्वामी विनोद महाराज ने गंगा किनारे चल रहे अवैध निर्माणों पर नाराजगी जताई है। लंबे समय से गंगा की निर्मलता अविरलता को लेकर विनोद महाराज कई आंदोलन कर चुके है।ं फिर चाहे वह गंगा में अवैध खनन को लेकर हो या गंगा के दोहन की बात हो। अब गंगा किनारे चल रहे अवैध निर्माणों से नाराज स्वामी विनोद महाराज ने हरिद्वार विकास प्राधिकरण के सचिव से मुलाकात कर इस विषय में वार्ता की और कहा कि संत होने के नाते हमारा यह दायित्व बनता है कि हम समाज को सही दिशा दिखाने के साथ-साथ समाज में फैली किसी भी प्रकार की कुरीति के लिए आवाज उठाएं। उन्होंने कहा कि एक तो पहले ही कुछ भूमाफियाओं ने गंगा के अस्तित्व से खिलवाड़ करके खतरे में डाल दिया है और दूसरी ओर लगातार हो रहे अवैध निर्माण गंगा की अविरलता को तार-तार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि गंगा के अस्तित्व से खिलवाड़ बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। साथ ही गंगा किनारे किए जा रहे अवैध निर्माणों को लेकर सामाजिक सेना लड़ाई लड़ेगी। जिसकी पहल करते हुए हरिद्वार रुड़की विकास प्राधिकरण के सचिव से मिलकर इस संबंध में कार्यवाही की मांग की गई है। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारी की लापरवाही के चलते लगातार गंगा किनारे अवैध निर्माण हो रहे हैं। शिकायत के बावजूद भी अधिकारियों द्वारा अवैध निर्माणों के खिलाफ कोई भी ठोस कदम नहीं उठाया जा रहा है। सामाजिक सेना इसके लिए आंदोलन करेगी और जरूरत पड़ी तो हरिद्वार रुड़की विकास प्राधिकरण का घेराव भी करेगी। जिसके लिए अधिकारी एवं प्रशासन स्वयं जिम्मेदार होेंगे। उन्होंने कहा कि प्राधिकरण के अधिकारियों की शह पर आवासीय कॉलोनी भी होटल, कंपलेक्स आदि में तब्दील हो रही है और सरकार को भी भारी राजस्व का नुकसान हो रहा है। अवैध निर्माण करने वाले लोगों को कंपाउंड के नाम पर खुली छूट मिल रही है और भ्रष्टाचार का बोलबाल है। जिसे अब बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जरूरत पड़ी तो गंगा किनारे हो रहे अवैध निर्माणों को लेकर सामाजिक सेना कोर्ट का सहारा भी लेगी।