किसी बात को लेकर आपस में भिड़े भिखारी


 हरिद्वार। हरकी पैड़ी एवं गऊ घाट के अलावा विभिन्न गंगा घाटों पर भिखारियों की बढ़ती संख्या एवं गंगा घाटों पर असामाजिक तत्वों का आए दिन आपस में लड़ाई झगड़े के कारण धर्मनगरी की मानमर्यादाओं को ठेस पहुंचाने जैसा है। गऊघाट पर शराब के नशे में धुत्त भिखारी आपस मंें लड़ाई झगड़े पर उतारू हैं। क्षेत्र के लोगों द्वारा झगड़ रहे भिखारियों की वीडियों सोशल मीडिया पर वायरल की। जबकि पुलिस भी लगातार असामाजिक तत्वों एवं लड़ झगड़ रहे भिखारियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करती है। लेकिन आए दिन शराब पीकर भिखारी गंगा घाटों पर हुड़दंग मचा रहे हैं। समाजसेवी कमल खड़का ने कहा कि भिखारियों की बढ़ती संख्या के कारण बाहर से आने वाले यात्री श्रद्धालुओं को भी असुविधाओं का सामना करना पड़ रहा है। कई बार तो भिखारी भिक्षा लेने के चक्कर में यात्रीयों से भी बदसलूकी करते हैं। गंगा घाटों से भिखारियों को हटाया जाए। धार्मिक क्रियाकलाप पहुंच रहे श्रद्धालुओं को काफी दिक्कतें झेलनी पड़ रही हैं। भिखारियों की बढ़ती संख्या के कारण आए दिन गंगा घाटों पर लड़ाई झगड़े के नजारे देखने को मिल रहे हैं। पुलिस को वृहद स्तर पर ऐसे भिखारियों को चिन्हित करना चाहिए। जो कि शराब पीकर हुड़दंग मचाते हैं। माहौल खराब कर रहे हैं। धर्मनगरी की मानमर्यादाओं का ध्यान नहीं रखते हैं।