पुष्कर सिंह धामी ने जूना पीठाधीश्वर से भेंट कर आर्शीवाद प्राप्त किया

 मुख्यमंत्री ने किया निर्माणाधीन मेडिकल काॅलेज का निरीक्षण,कार्यो में तेजी लाने के निर्देश


हरिद्वार। विधानसभा चुनाव के लिए मतदान सम्पन्न हो जाने के बाद सोमवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने हरिद्वार पहुचे। यहां पहुचने के बाद मुख्यमंत्री ने संतो से भी आर्शीवाद लिया। मुख्यमंत्री यहा पहुचकर जगजीतपुर क्षेत्र में निर्माणाधीन मेडिकल कॉलेज के निर्माण कार्य का निरीक्षण करते हुए प्रगति पर संतोष व्यक्त किया है। उन्होंने कहा यह मेडिकल कॉलेज का पहला एडमिनिस्ट्रेटिव ब्लॉक 2023 अगस्त में तैयार हो जाएगा और 2024 में मेडिकल कॉलेज तैयार हो जाएगा और यह मेडिकल कॉलेज एमबीबीएस की पढ़ाई करने वाले छात्र-छात्राओं के लिए मील का पत्थर साबित होगा। यह मेडिकल काॅलेज हरिद्वार के विकास में अहम योगदान देगा। मुख्यमंत्री मेडिकल कालेज के निर्माण की गति से वह संतुष्ट दिखे। साथ ही निर्माण कार्य को और तेज गति देने के निर्देश भी दिए। उन्होंने बताया कि 2024 तक पूरा मेडिकल कालेज बनकर तैयार हो जाएगा। जगजीतपुर स्थित हरिद्वार नगर निगम भूमि पर 538.40 करोड़ की लागत से मेडिकल कॉलेज का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। जिसमें टीचिंग हॉस्पिटल, मेडिकल कॉलेज, एडमीस्ट्रेशन और लाइब्रेरी, छात्रावास, अधिकारी और कर्मचारी आवासीय परिसर, अतिथि भवन के अतिरिक्त अन्य भवनों का निर्माण किया जाना है। सोमवार को मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने निर्माणाधीन मेडिकल कालेज का निरीक्षण किया। उन्होंने निर्माण कार्य की गति पर संतोष जताया। मुख्यमंत्री के निरीक्षण के दौरान हरिद्वार ग्रामीण के विधायक यतीश्वरानंद, लक्सर विधायक संजय गुप्ता, जिलाध्यक्ष डॉ. जयपाल चैहान, पूर्व मेयर मनोज गर्ग, पार्षद लोकश पाल आदि मौजूद रहे। बाद में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने सोमवार को कनखल स्थित हरिहर आश्रम पहुंचकर जूना पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी महाराज से भेंट कर आशीर्वाद लिया। हरिहर आश्रम में पहुंचे सीएम पुष्कर सिंह धामी ने स्वामी अवधेशानंद गिरी से मुलाकात की। उन्होंने उनसे जीत का आशीर्वाद लिया। बंद कमरे में करीब 10 मिनट तक उनकी बातचीत चली। जूना पीठाधीश्वर अवधेशानंद महाराज ने कहा कि मैं एक आध्यात्मिक व्यक्ति हूं मेरी सारी चर्चाओं का आधार आध्यात्म रहता है। कहा कि विश्व मानचित्र में उत्तराखंड राज्य अग्रणी, श्रेष्ठ, ऊर्जावान और सामर्थ्यवान राज्य सिद्ध हो, यह मेरी मनोकामना है।