श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन के संतों ने गरीबों को वितरित किए कंबल


 हरिद्वार। श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन निर्वाण की शाहपुर शाखा में पांच सौ गरीब और निराश्रित परिवारों को कंबल वितरित किए गए। इस अवसर पर शाहपुर शाखा के कोठारी महंत जयेंद्र मुनि महाराज ने कहा कि सर्दी के मौसम में बचाव के लिए गरीब परिवारों को कंबल वितरित किए गए हैं। प्रत्येक वर्ष कंबल वितरण कार्य अखाड़े की प्रत्येक शाखा द्वारा किया जाता है। श्री पंचायती अखाड़ा बड़ा उदासीन प्राचीन काल से सेवा प्रकल्पों के माध्यम से समाज कल्याण में अपना योगदान प्रदान करता चला आ रहा है। समाज के प्रत्येक वर्ग को गरीबों की मिलजुलकर सहायता करनी चाहिए और मानव सेवा के लिए समर्पित रहना चाहिए। कार्यक्रम को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित करते हुए बादशाहपुर शाखा के कोठारी महंत प्रेमदास महाराज ने कहा कि मानव सेवा ही सबसे बड़ा धर्म है और गरीब परिवारों की मदद करने से सहस्र गुना पुण्य फल की प्राप्ति होती है। उन्होंने कहा कि गरीब असहाय लोगों की सहायता करने से सुख की जो अनुभूति होती है। वह किसी और कार्य से नहीं हो सकती। गरीब असहाय लोगों की सहायता के लिए सभी को आगे आकर अपना योगदान देना चाहिए।  महंत बलवंत दास महाराज ने कहा कि सर्दी के मौसम में बचाव के लिए कंबल वितरण प्रत्येक वर्ष किए जाते हैं। समाज को सेवा का संदेश देना ही संतों का कार्य है और संत सदैव  अपना संपूर्ण जीवन मानव सेवा और परोपकार को समर्पित करते हैं। समाज में एकता और अखंडता भी बनी रहेगी और प्रत्येक गरीब परिवार स्वयं को समाज से अलग नहीं समझेगा। महंत मुरली दास महाराज एवं महंत सत्यानंद महाराज ने कंबल वितरण समारोह में आए सभी लोगों को मास्क वितरित किए और उन्हें कोरोना नियमों का पालन करने के लिए प्रेरित किया। इस अवसर पर स्वामी शिवकुमार, महंत महेंद्र सिंह, महंत निरंजन दास, महंत दर्शन दास, महंत निर्मल दास, महंत दामोदर दास, महामंडलेश्वर स्वामी शिवानंद, महंत कमल दास, रोहताश सिंह, समाजसेवी संजय राठौर, रामकुमार खरड़, नरेश कुमार, सुरेंद्र सिंह सहित कई गणमान्य लोग उपस्थित रहे।