राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारी संगठन ने दो सूत्रीय मांगों को लेकर दिया धरना

 हरिद्वार। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारी संगठन ने दो सूत्रीय मांगों को लेकर शुक्रवार को देवपुरा स्थित पार्क में धरना दिया। इस दौरान धरना स्थल पर पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष सतपाल ब्रहमचारी भी पहुंचे। उन्होंने कहा कि राज्य में कांग्रेस की सरकार आने पर एनएचएम कर्मियों के नियमतिकरण को लेकर योजना बनाई जाएगी। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारी संगठन का दो सूत्रीय मांगों को लेकर चरणबद्ध आंदोलन दूसरे चरण में प्रवेश कर चुका है। आंदोलन के दूसरे चरण में आकस्मिक सेवाओं में तैनात एनएचएम कर्मियों ने भी कार्य बहिष्कार शुरू कर दिया। जिसके चलते जिला अस्पताल, मेला अस्पताल और ब्लड बैंक की स्वास्थ्य सेवाओं पर प्रतिकूल असर देखने को मिल रहा है। कर्मचारी संगठन का दो सूत्रीय मांगों को लेकर सीएमओ कार्यालय में धरना और पैदल मार्च निकाल चुके हैं। जबकि गुरुवार को अपनी मांगो को लेकर मुख्यमंत्री और आयुष मंत्री को भी अपना ज्ञापन सौंप चुके हैं। शुक्रवार को देवपुरा चैक स्थित पार्क पर एनएचएम कर्मियों ने धरना दिया। पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष सतपाल ब्रहमचारी ने भी धरना स्थल पर पहुंचकर एनएचएम कर्मियों को समर्थन दिया। इस दौरान राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन संविदा कर्मचारी संगठन के आशुतोष भट्ट, कमल पांडेय, सरोप पोखरियाल, विवेक खन्ना, रेशमा परवीन, आशीष काला, कुलदीप बिष्ट, सुमित सक्सेना, राजकुमार कश्यप,अवनीश, अश्वनि कुमार, विजय भट्ट, विरेंद्र दत्त, मुकेश चंद्र,पायल,डॉ. प्रियंका, नीलम,फरजाना,सुधीर, नीतू, नेहा, बीना सैनी, सरिता, अनिल नेगी,डॉ. नितेश वर्मा, सोनम, विरेंद्र दत्त, विजय भट्ट, दीपक भारद्वाज, राजीव कुमार, डॉ. ज्ञान सिंह, अनिल नेगी, कुलवीर, अंकुर सैनी, ब्रजेश कुमार, स्वाति, ममता,रश्मि, रीता आदि मौजूद रहे।