गायत्री बनमाला मंडल ने किया तुलसी शालिग्राम विवाह का आयोजन

 


हरिद्वार। कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर गायत्री बनमाला मंडल, केंद्र शांतिकुंज हरिद्वार द्वारा तुलसी शालिग्राम विवाह का आयोजन किया गया। बनमाला मंडल की बहनों ने तुलसी के पौधे वितरित किये और बाल संस्कार शाला के बच्चों ने राधा कृष्ण के नृत्य प्रस्तुति दी। मंडल की संचालिका कुसुम त्रिखा ने तुलसी का महत्व बताते हुए कहा कि तुलसी का वर्णन हमारे वेदों में भी आता है और इसकी प्राण शक्ति समस्त रोगों का शमन करने की ताकत रखती है। तुलसी वाटिका लगाकर हम पर्यावरण और वातावरण दोनों को श्रेष्ठ बना सकते हैं। तुलसी शालिग्राम विवाह अनुष्ठान करने से जिनके विवाह आयोजन में बाधा आ रही हो अथवा विलंब हो रहा हो वह शीघ्रता से सम्पन्न होता है। घरों में सुख शान्ति का वास होता है। इस दौरान कावेरी, प्रीति, पुष्पा,लीला,शुक्ला,श्रुति तथा बच्चों में परविंदर, गिन्नी, संध्या, अंश, सोनू, कृष्णा, आयुष, स्वाति, श्रुति और सुधांशु ने योगदान किया।