भाजपा सरकार में गरीबों के मुंह से रोटी का निवाला छीना जा रहा है-बलबीर सिंह नेगी

सभी काग्रेसजन एक होकर भाजपा से लड़ाई लड़ेंगे-डाॅ0 संजय पालीवाल 

 हरिद्वार। कांग्रेस जिला संगठन प्रभारी बलबीर सिंह नेगी ने कहा कि आगामी विधानसभा चुनाव के कुछ ही माह शेष रह गए हैं। कांग्रेस का मुख्य मुकाबला भाजपा से है। भाजपा ने पूरे भारत में महंगाई से त्राहि-त्राहि मचा दी है। गरीबों के मुंह से रोटी का निवाला छीना जा रहा है। गरीब लोग एक समय का खाना मुश्किल से जुटा पा रहे हैं। यह बात उन्होंने सैनी आश्रम में महानगर की बैठक में कही। बैठक में नेताओं ने समय से योग्य उम्मीदवारों को टिकट देने की वकालत भी की। बलबीर ने कहा कि जब पेट्रोल सौ से पार और खाने का तेल 200 रुपये पहुंच जाए तो खाना कैसे बनेगा। भाजपा ने अच्छे दिन के नाम पर केवल जनता को टैक्स लगाकर लूटने का काम किया है। उन्होंने कहा कि युवाओं को नौकरी तथा महिलाओं की सुरक्षा देने में भाजपा असफल रही है। भाजपा के पदाधिकारी व विधायक महिलाओं के शोषण में संलिप्त पाए जाते हैं। लेकिन उन पर कोई कार्रवाई नहीं की जाती। जिला सह प्रभारी प्रदीप तिवाड़ी ने कहा कि कार्यकर्ता केवल कांग्रेस के निशान हाथ के पंजे के लिए कार्य करें। पार्टी जिसको भी टिकट दे उसको विजय बनाने के लिए वे एक जुट हो जाएं। प्रदेश महासचिव डॉ संजय पालीवाल ने कहा कि पार्टी ने अगर योग्य उम्मीदवार को टिकट दिया तो निश्चित कांग्रेस का परचम लहराएगा। सभी काग्रेसजन एक होकर भाजपा से लड़ाई लड़ेंगे। पूरे जिले में कांग्रेस की सीटें जीतने का कार्य करेंगे। महानगर अध्यक्ष संजय अग्रवाल ने कहा कि हरिद्वार में कोई गुटबाजी नहीं है। यदि टिकट समय से घोषित हो गया तो सभी सीटों पर कांग्रेस की जीत निश्चित है। प्रदेश सचिव प्रदीप चैधरी व पूर्व पालिका अध्यक्ष सतपाल ब्रह्मचारी ने कहा कि भाजपा के अत्याचारों से दुखी तथा कमरतोड़ महंगाई व कोरोना महामारी में सरकार द्वारा जनता की कोई मदद ना करना तमाम समस्याओं से जनता त्रस्त है। बैठक में डॉ इंद्रमणि सेमवाल, पूर्व विधायक रामयश सिंह, चै. बलजीत सिंह, महेश प्रताप राणा, जटाशंकर श्रीवास्तव, नगर अध्यक्ष ज्वालापुर यशवंत सैनी, बीएस तेजियान, वरुण बालियान, गुलबीर सिंह चैधरी, शुभम अग्रवाल, रविबहादुर, नितिन तेश्वर, डॉ दिनेश पुंडीर, असोक शर्मा, अनिल भास्कर, रवीश भटिजा, बीना कपूर, आकाश बिरला, हरजीत सिंह, अशोक उपाध्याय, राजीव गौड़, कैलाश प्रधान, पार्षद साहबुद्दीन, पार्षद इसरार अहमद आदि शामिल रहे।