प्राधिकरण द्वारा शहर में 88 पार्क विकसित किये जा रहे -विनय शंकर पाण्डेय

 हरिद्वार। जिलाधिकारी विनय शंकर पाण्डेय ने कहा कि पुराने पार्कों के मेंटीनेंस की व्यवस्था की जा रही है। एचआरडीए बोर्ड की मीटिंग में इस संबंध में योजना बनाई गई है। जो भी नए पार्क बनाए जा रहे हैं, वह स्थानीय नागरिकों को हैंडओवर किये जाएंगे तथा पार्कों के मेंटीनेंस के संबंध में उनसे लिखित में लिया जाएगा। यह बात जिलाधिकारी ने गुरुवार को सिडकुल में अरोमा पार्क का उद्घाटन करते हुए कही। इस दौरान सुगंध और हर्बल पौंधों का रोपण किया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि हरिद्वार-रुड़की विकास प्राधिकरण का भी इसमें पूरा सहयोग मिलेगा। प्राधिकरण द्वारा शहर में 88 पार्क विकसित किये जा रहे हैं। इसमें औद्योगिक संस्थानों से भी सहयोग लिया जा रहा है। प्रशासन का प्रयास है कि इन पार्कों में अच्छे किस्म के पौधे लगाये जाएं ताकि शहर को अधिक हरा-भरा एवं सुंदर बनाया जा सके। जिलाधिकारी ने कहा कि पेड़-पौधों से लगाव होना जरूरी है, जिस तरह छोटे बच्चों को अधिक देखभाल एवं प्यार की जरूरत होती है, उसी तरह पेड़-पौधे की छोटे बच्चों की तरह देखभाल करना जरूरी है। हमें पेड़ पौधों से लगाव की भावना विकसित करनी होगी। इस अवसर पर निशांत अरोमा ने बताया कि चार एकड़ में फैले इस पार्क को हर्बल पार्क के रूप में विकसित किया जा रहा है। इस अवसर पर महाप्रबंधक इंडस्ट्री पल्लवि गुप्ता, आरएम सिडकुल जीएस रावत, अरुण प्लास्टो से ममता, अध्यक्ष फार्मा इंडस्ट्री अनिल शर्मा, अध्यक्ष एसएमएयू हरेंद्र गर्ग, महासचिव एसएमएयू राज अरोड़ा, प्रवीण शर्मा आदि उपस्थित थे।