भाजपा पार्षदों ने की मेयरपति के खिलाफ नियमानुसार कानूनी कार्रवाई की मांग

 हरिद्वार। मेयरपति द्वारा निरन्तर नगर निगम के विकास कार्यों में बाधा डालने व निगम में अराजकता का वातावरण उत्पन्न करने के खिलाफ भाजपा पार्षदों ने कड़ा आक्रोश व्यक्त किया है। प्रेस को जारी बयान में भाजपा पार्षद दल के नेता सुनील अग्रवाल गुड्डू ने कहा कि नगर निगम हरिद्वार में मेयर की अनुभवहीनता व अपने पति के दवाब में कार्य करने के चलते विकास कार्य बाधित हो रहे हैं। मेयर प्रतिनिधि अशोक शर्मा द्वारा समय≤ पर कार्यों में अवरोध पैदा करने व कमीशन की इच्छापूर्ति हेतु अधिकारियों पर अनावश्यक दवाब बनाने से नगर निगम में अराजकता का वातावरण उत्पन्न हो गया है जिसका खामियाजा हरिद्वार की जनता को भुगतना पड़ रहा है। भाजपा पार्षद दल के उपनेता अनिरूद्ध भाटी ने कहा कि राजनीतिक रूप से बेरोजगार मेयरपति अपनी स्वार्थपूर्ति को लेकर बेवजह विकास कार्यों में बाधा उत्पन्न करते हैं। जब उनकी धर्मपत्नी हरिद्वार की मेयर हैं वह सफाई व्यवस्था के लिए अधिकारियों को निर्देशित कर सकती हैं ऐसे में उनके पति व कांग्रेसी नेता अशोक शर्मा नाजायज कामों को कराने के लिए अधिकारियों पर जबरन दवाब डाल रहे हैं जब अधिकारी उनकी नाजायज मांगों को पूरा नहीं करते तो वह अधिकारियों से बेवजह लड़ने में भी गुरेज नहीं कर रहे हैं। मेयर व मेयरपति को अपने स्वार्थपूर्ति के स्थान पर शहर के विकास कार्यों पर ध्यान देना चाहिए। उपनेता राजेश शर्मा ने कहा कि हरिद्वार की जनता ने बड़े विश्वास के साथ अनीता शर्मा को मेयर के रूप में चुना था अफसोसजनक स्थिति यह है कि उनके पति ने मेयर कार्यालय को कमीशन खोरी व भ्रष्टाचार का अड्डा बना दिया है। जनहित के कार्यों को धरातल पर उतारने के स्थान पर मेयर अपने पति के दवाब में आकर कार्य रही है। विकास कार्यों में सहयोग करने के स्थान पर अशोक शर्मा कमीशन के फेर में बाधा उत्पन्न कर रहे हैं और मेयर साहिबा को खुले मन से काम करने का अवसर नहीं दे रहे हैं जो हरिद्वार की जनता के साथ बेमानी है। भाजपा पार्षद दल के सचेतक लोकेश पाल ने कहा कि जिस प्रकार मेयरपति ने एमएनए के साथ अभद्रता की है उससे अधिकारियों व कर्मचारियों को मनोबल टूटता है। भाजपा पार्षद दल विकास कार्यों को गति प्रदान करने के लिए अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ खड़ा है। मेयरपति हो या अथवा कोई अन्य नगर निगम में अराजकता बर्दाश्त नहीं की जायेगी। जो भी व्यक्ति नगर निगम में अराजकता उत्पन्न करेगा उसके खिलाफ नियमानुसार कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए। पार्षद ललित सिंह रावत व प्रशांत सैनी ने कहा कि भाजपा कमीशनखोरों का भंडा फोड़ कर विकास कार्यों को तेज गति देने के लिए नगर निगम आयुक्त के साथ खड़ी है। नगर निगम के विकास कार्यों में कमीशनखोरी बिल्कुल बर्दाश्त नहीं की जायेगी। मेयर प्रतिनिधि अशोक शर्मा नगर निगम के आयुक्त से लेकर कर्मचारियों, अधिकारियों पर बेवजह दवाब बनाकर विकास कार्यों को रोकने का काम करते हैं। भाजपा पार्षद दल शीघ्र ही एसपी सिटी व एसएसपी से मिलकर नगर निगम में अराजकता फैलाने वाले तत्वों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग करेगा। पार्षद विनीत जौली, अनिल वशिष्ठ, सुनीता शर्मा, विकास कुमार, शुभम मंदौला, नितिन शर्मा माणा, सचिन अग्रवाल, अनिल मिश्रा, प्रशांत सैनी, आशा सारस्वत, पिंकी चैधरी, मोनिका सैनी, ललिता चैहान, परमिन्दर सिंह गिल, सपना शर्मा, बबीता वशिष्ठ, नागेन्द्र राणा आदि पार्षदों ने नगर निगम में अराकजता समाप्त करने हेतु मेयरपति के खिलाफ नियमानुसार कानूनी कार्रवाई की मांग की।