पूर्व राज्यमंत्री ने हर की पैड़ी पर गंगा पूजन के बाद किया सत्याग्रह दुष्कर्म के आरोपी विधायक के खिलाफ कारवाई की मांग


 हरिद्वार। दुष्कर्म के आरोपों के मामले में जांच का सामना कर रहे भाजपा विधायक सुरेश राठौर को मुख्यमंत्री के गंगा पूजन व दुग्धाभिषेक कार्यक्रम में शामिल किए जाने के विरोध में प्रदेश कांग्रेस उपाध्यक्ष पूर्व राज्य मंत्री और चिन्हित राज्य आंदोलनकारी संयुक्त समिति के केंद्रीय मुख्य संरक्षक धीरेंद्र प्रताप ने हरकी पैड़ी पर सत्याग्रह किया और मुख्यमंत्री से माफी मांगने की मांग की। इस दौरान धीरेंद्र प्रताप के साथ समिति के संयोजक मनीष नागपाल और कांग्रेस उपाध्यक्ष एसपी सिंह इंजीनियर भी मौजूद रहे। हरकी पैड़ी पर गंगा पूजन करने के बाद कांग्रेस जनों और आंदोलनकारियों को संबोधित करते हुए धीरेंद्र प्रताप ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार रेप के आरोपियों का महिमांडन कर रही है। रेप के आरोपों का सामना कर रहे विधायक सुरेश राठौर को गंगा पूजन कार्यक्रम में सम्मिलित करने पर मुख्यमंत्री को तत्काल राज्य की जनता से माफी मांगनी चाहिए। धीरेंद्र प्रताप ने कहा कि धर्म की राजनीति करने वाली भाजपा सरकार में बलात्कार के आरोपियों को जेल भेजने के बजाय उनको सार्वजनिक कार्यक्रमों में सम्मानित और उपकृत किया जाता है। उन्होंने कहा कि कुंभ में कोविड टेस्ट घोटाले के आरोपियों को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया गया है। फर्जी कोविड टेस्ट कर लोगों की जान खतरे में डालने वाले अधिकारियों पर तत्काल कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए। आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविन्द केजरीवाल के अभियान को ढकोसला बताते हुए कहा कि उत्तराखण्ड में उत्तराखण्ड में केजरीवाल माॅडल नहीं हरीश रावत माॅडल चलेगा। एसपी सिंह इंजीनियर ने कहा कि मातृशक्ति और मां गंगा का अपमान करने वाले लोगों का बहिष्कार किया जाना चाहिए। लेकिन भाजपा नेतृत्व उन्हें पुरस्कृत करने में लगा है। राज्य में बेरोजगारी और भ्रष्टाचार चरम पर है। विकास पूरी तरह ठप्प है। लेकिन सरकार जनता के हित में कोई कदम उठाने को तैयार नहीं है। विधायक सुरेश राठौर विधानसभा क्षेत्र में कोई काम नहीं करा पाए हैं। ज्वालापुर विधानसभा की जनता बिजली, पानी, सड़क जैसी मूलभूत सुविधाओं से वंचित है। उन्होंने कहा कि ज्वालापुर को कुंभ क्षेत्र में शामिल करने की मांग भी की जा चुकी है। लेकिन केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार के द्वारा लोगों की मांगों को स्वीकार नहीं किया गया। सीपी सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार में प्रत्येक वर्ग परेशान है।  उन्होंने कहा कि भाजपा की नीतियों से परेशान जनता विधानसभा चुनाव में उसे सबक सिखाने के लिए तैयार बैठी है। चिन्हित राज्य आंदोलनकारी संयुक्त समिति के संयोजक मनीष कुमार ने कहा कि सुविधाएं समाप्त कि जाने के विरोध में राज्य आंदोलनकारी सड़कों पर आंदोलन कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 14 जुलाई को राज्य भर के हजारों आंदोलनकारी धीरेंद्र प्रताप, रविंद्र जुगरान और अन्य नेताओं के नेतृत्व में राजभवन का घेराव करेंगे। इस अवसर पर महिला कांग्रेस शहर अध्यक्ष अंजू मिश्रा, दलित नेता सीपी सिंह, राजेश कुमार, शशी झा, नलिनी दीक्षित, अंजू द्विवेदी, सरिता शर्मा, गीता जैन, मनजीत कौर, गौरी शंकर, रवीश भटीजा, कैलाश भट्ट, राजेश कुमार, राजीव शर्मा गौड़, पंडित हेमंत पंत, रोहित पांडे, महेश प्रताप राणा सहित बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता मौजूद रहे।