आंदोलनरत कर्मियों ने तीसरे दिन भी काली फीती बाॅधकर किया प्रदर्शन


 हरिद्वार। चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी संघ चिकित्सा स्वास्थ्य सेवाएँ उत्तराखंड का प्रदेश व्यापी आंदोलन के तहत तीसरे दिन भी काली फीती बांधकर अपना कार्य करते हुए विरोध प्रदर्शन किया। इस अवसर पर संघ के प्रदेश अध्यक्ष दिनेश लखेड़ा महामन्त्री सुनील अधिकारी वरिष्ठ उपाध्यक्ष गिरीश पंत उपाध्यक्ष नेलसन अरोड़ा, दीपक धवन ने सभी कर्मचारियों को उत्तराखंड के लोकपर्व हरेला की शुभकामनाएं दी और सभी कर्मचारियों को आंदोलन को सफल बनाने के लिए अपनी इसी तरह एकजुट होकर एकता का परिचय देने को कहा जब तक की हमारी मांगे पूरी न हो जाये। दिनेश लखेड़ा ने कहा कि कर्मचारियों की मांग पदोन्नति, उद्यान विभाग के माली की भांति टेक्निकल आयुर्वेद विश्वविद्यालय के कर्मचारियों के वेतन, भत्तों, पेंसन के लिए डी डी ओ कोड बहाल किया जाए ,पोष्टिक आहार भत्ता, एक माह का मानदेय, जोखिम भत्ता, इत्यादि के लिएअभी तक किसी भी विभाग की और से द्विपक्षीय वार्ता हेतु या कोई ठोस कार्यवाही का कोई भी आश्वासन नही दिया गया है जो कि सरकार द्वारा अन्यायपूर्ण रवैया अपनाया जा रहा है जिससे कर्मचारियों का आक्रोश कभी भी उग्र रूप ले सकता है। काली फीती बांधकर विरोध करने वालों में शिवनारायण सिंह, महेश कुमार, दीपक धवन, राकेश भँवर, जीत सिंह, विजेंदर पाल, छत्रपाल सिंह ,अजय कुमार,आशुतोष गैरोला, अरुण, कमल, कामेंद्र, दिनेश नोटियाल, संदीप शर्मा, सचिन, राजेन्द्र तेश्वर, गुलशन, पप्पू, धर्मसिंह, मूलचंद चैधरी, नाथी, दिलबर सत्कारी, प्रवीण सुदामा जोशी, खुशाल मणि, बद्रीप्रसाद, मुकेश, रजनी, संतोष, सुदेश, अनिता, ममता, मुन्नी देवी, मिथलेश, निशा, अशोक, सुरेश, इत्यादि ने विरोध किया