मानव और प्रकृति के बीच संतुलन के लिए पेड़-पौधे लगाना आवश्यक-के.के.मिश्रा


हरिद्वार। मां चंडी देवी मंदिर परमार्थ ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत रोहित गिरी महाराज ने रोशनाबाद स्थित बाल गृह में एडीएम वित्त केके मिश्रा की अध्यक्षता में बाल कैदियों को खाद्य सामग्री एवं पौधे भेंट किए। इसके उपरांत बाल गृह के प्रांगण में आम, पीपल, पपीता आदि के वृक्ष भी लगाए गए। इस दौरान चंडी देवी मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष महंत रोहित गिरी महाराज ने कहा कि पर्यावरण संरक्षण के लिए पौधारोपण नितांत आवश्यक है। बाल गृह में रह रहे छोटे बच्चों को पर्यावरण से जुड़ी जानकारी देकर उन्हें पौधारोपण के लिए प्रेरणा दी गई है। जो भविष्य में आम जनमानस के हित में साबित होगी। कोरोना महामारी के दौरान अनेकों लोगों की ऑक्सीजन की कमी के चलते मृत्यु हुई है। इससे संपूर्ण मानव जाति को सबक लेना चाहिए। एडीएम केके मिश्रा ने कहा कि महंत रोहित गिरी महाराज का पर्यावरण संरक्षण के लिए अथक प्रयास सराहनीय कार्य है। आज मानव और प्रकृति के बीच असंतुलन पैदा हो गया है। जिसे संतुलित करने के लिए पेड़ पौधे लगाना बहुत आवश्यक है। छोटे बच्चों को प्रारंभ से ही शिक्षा देना भविष्य में उनके लिए हितकर साबित होगा। हम सभी को मिलजुल कर समय-समय पर वृक्षारोपण अवश्य करना चाहिए। साथ ही लगाए गए वृक्षों का संरक्षण भी अवश्य करना चाहिए। नेचर फाउंडेशन सोसाइटी के अध्यक्ष किरण भटनागर ने कहा कि आम जनमानस का सहयोग और संत समाज के अथक प्रयास से समाज जागरूक होकर उन्नति की ओर अग्रसर हो सकता है। संतो ने सदैव ही समाज को प्रेरणा देकर समाज का मार्गदर्शन किया है। समय-समय पर महंत रोहित गिरी महाराज द्वारा सेवा प्रकल्पों के माध्यम से समाज को प्रेरित किया जाता है। आदर्श समाज की स्थापना के लिए जन सहभागिता जरूरी है। इस दौरान बाल ग्रह अधीक्षक प्रशांत शर्मा मोहित राठौर, विशाल भारद्वाज आदि उपस्थित रहे।