हरकी पैड़ी पर हुक्का गुड़गुड़ाना पड़ा भारी पुलिस ने किया गिरफ्तार

 


हरिद्वार। आरोप है कि यात्री गंगा किनारे हुक्का पी रहे थे और हंगामा कर रहे थे। लोगों ने युवकों को पकड़कर पुलिस के हवाले किया। तीर्थ पुरोहितों ने हरकी पैड़ी पर गंगा किनारे हुक्का पीकर हुड़दंग करने वालों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। सूचना पर पहुची पुलिस ने नौ पर्यटकों को गिरफ्तार कर शांतिभंग में चालान किया है। हरियाणा और दिल्ली के कुछ युवक हर की पैड़ी के ब्रह्मकुंड और मालवीय घाट पर स्नान करते समय हुक्का पी रहे थे। जिससे नाराज तीर्थ पुरोहितों ने युवकों को पकड़ लिया और हुक्का छीनकर तोड़ते हुए युवकों की पिटाई की। जिससे हंगामा खड़ा हो गया। पुलिस ने आरोपितों को हिरासत में ले लिया है। हरकी पैड़ी पर डीजे पर डांस, बर्थडे मनाने के बाद घाट पर सरेआम हुक्का गुड़गुड़ाने का मामला सामने आया है। बुधवार शाम को भी ऐसा ही मामला सामने आया। जब दिल्ली और युपी के छह पयर्टक मालवीय घाट पर गंगा स्नान कर रहे थे। इसके साथ ही युवक गंगा में हुक्का भी पी रहे थे। आसपास के तीर्थ पुरोहित और लोगों ने यह देखा। लोग इकट्ठा होकर आ गए। पुलिस के पहुंचने से पहले लोगों ने युवकों को गंगा से बाहर निकाला और मारपीट शुरू कर दी। युवकों को पुलिस के सुपुर्द कर दिया। पुलिस के सामने भी युवकों ने हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस ने युवकों को गिरफ्तार कर लिया है। उधर मायापुर पुलिस ने भी तीन यात्रियों को कश्यप घाट पर पकड़ लिया। तीनों युवकों को हुड़दंग कर रहे थे। इससे पहले तीनों युवकों ने एक कार को टक्कर भी मारी थी। युवकों के पास से पुलिस ने हुक्का भी बरामद किया है। शहर कोतवाल राजेश साह ने बताया कि मोहन पुत्र चन्द्रमान, दीपक पुत्र प्रवीण, सुमित पुत्र हरिओम निवासीगण झज्जर हरियाणा, रविन्द्र पुत्र उमेद सिंह निवासी रोहतक हरियाणा, निलेश पुत्र जितेन्द्र निवासी चरथावल मुजफ्फनगर और नितिन पुत्र मनोज निवासी मुजफ्फरनगर को हरकी पैड़ी से गिरफ्तार किया है। दूसरी और ऋषिकुल पुल के पास हुड़दंग कर रहे दिल्ली व हरियाणा के तीन युवकों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। जबकि सोनू पुत्र दयानन्द, मनोज पुत्र दीपचन्द्र निवासीगण खालसा जाफरपुर दिल्ली और कोकी पुत्र हिम्मत सिंह निवासी सोनीपत हरियाणा को मायापुर पुलिस ने गिरफ्तार किया है।