प्रशासनिक जांच टीम ने घण्टो की कोविड टेंस्टिंग करने वाले दो फर्म संचालको से पूछताछ

 हरिद्वार। कुंभ मेले के दौरान हुये घोटाले की जांच में जुटी प्रशासनिक टीम ने कोविड टेस्ट गड़बड़ी मामले में आरोपी कंपनी संचालक और टेस्टिंग लैब के कर्मियों से जांच अधिकारियों ने घंटों पूछताछ की। गुरूवार को विकास भवन में सीडीओ डाॅ0 सौरव गहरवार की अध्यक्षता में बनी कमेटी ने मैक्स कॉरपोरेट सर्विसेज के संचालकों से करीब 6 घंटे पूछताछ की। सूत्रों के मुताबिक बंद कमरे में चली पूछताछ में जांच कमेटी को कई अहम जानकारियां हाथ लगी हैं। इसके अलावा टेस्टिंग लैब नालवा के संचालकों से पुलिस एसआईटी ने भी घंटों पूछताछ की। पूछताछ खत्म होने के बाद सीडीओ डाॅ0 सौरव गहरवार ने बताया कि जांच कमेटी ने मैक्स कॉरपोरेट से कुछ और अहम दस्तावेज मांगे हैं। उम्मीद है कि जल्द ही सभी तथ्य सामने आ जाएंगे। उन्होंने बताया कि तीसरी आरोपी कंपनी लालचंदानी लैब ने सोमवार को पेश होने की बात कही है। कुंभ 2010 में कोरोना टेस्टिंग फर्जीवाड़े में आरोपित फार्म के प्रतिनिधीआज जांच समिति के समक्ष उपस्थित हुए जहां उन्होंने अपना पक्ष रखा हरिद्वार विकास अधिकारी के नेतृत्व में बनाई गई जांच समिति ने आरोपित फार्म को उनके समक्ष उपस्थित होकर अपना पक्ष रखने के लिए 24 जून तक का समय दिया था।  आपको बताते चलें कि महाकुंभ 2021 में आने वाले श्रद्धालुओं की कोरोना जांच के लिए कई प्राइवेट लैब को अधिकृत किया गया था। जिनका कार्य हरिद्वार आने वाले श्रद्धालुओं की कोरोना टेस्ट करना था। जिनको तय मानकों के अनुसार भुगतान भी किया जाना था। जांच के दौरान पाया गया कि कुछ लैब द्वारा कोविड जांच में हेराफेरी की गई है जिसके बाद प्रशासन द्वारा मुख्य विकास अधिकारी के नेतृत्व में एक जांच कमेटी बनाई गई। जिसने आरोपित फर्मो को उसके समक्ष उपस्थित होने के लिए 24 जून तक का समय दिया था। इसी के तहत गुरूवार को आरोपित मैक्स कॉर्पोरेट सर्विस और हिसार हरियाणा की नलवा लैब के प्रतिनिधि हरिद्वार के विकास भवन पहुंचे जहां जांच समिति द्वारा सीडीओ डाॅ0 सौरभ अहरवार के कार्यालय में उनसे कई घंटों तक पूछताछ की गई। कंपनी के प्रतिनिधियों द्वारा मीडिया के समक्ष बताया गया कि उनके द्वारा जांच में सहयोग किया जा रहा है और उनके द्वारा कोई भी कोविड टेस्ट नहीं किया गए हैं। उन्होंने जिन फर्मो को यह कार्य दिया था उनके द्वारा ही कोविड टेस्टिंग का कार्य किया गया है और अगर कोई गड़बड़ हुई है तो उन्हीं के स्तर पर हुई होगी।  इस पर अभी कुछ कहना संभव नहीं है। तो वही पूछताछ के बाद सीडीओ डाॅ0सौरव गहरवार ने कहा कि आज पूर्व नोटिस के अनुसार मैक्स कॉरपोरेट सर्विस के प्रतिनिधि और हिसार हरियाणा के नलवा लैब के प्रतिनिधि उनके समक्ष उपस्थित हुए थे। इसके अलावा दिल्ली की लाल चंदानी लैब के संचालकों ने शुक्रवार तक का समय मांगा है उन्होंने कहा कि आज उपस्थित हुये दोनों ही फर्म के प्रतिनिधियों से पूछताछ की गई ,जांच अभी जारी है। जांच पूर्ण होने के बाद ही कुछ कहना संभव है।