पेट्रोल डीजल के दामों को वापस लेने की मांग,आंदोलन की चेतावनी

 हरिद्वार। आम आदमी पार्टी कार्यकर्ताओं ने लगातार बढ़ रही पेट्रोल, डीजल की कीमतों पर विरोध प्रकट करते हुए सरकार से बढ़े हुए दाम तत्काल वापस लेने की मांग की। आप प्रवक्ता एवं हरिद्वार विधानसभा मीडिया प्रभारी सचिन बेदी एडवोकेट ने कहा कि कोरोना की मार झेलते हुए लोगों को एक वर्ष से अधिक का समय हो गया है। लोग कोरोना के साथ महंगाई से भी जूझ रहे हैं। लगातार बढ़ रही महंगाई से गरीब, मजदूर, मध्यम वर्ग का बुरा हाल है। पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस व तमाम जरूरी चीजों के दाम लगातार बढ़ने से आमजन की कमर टूट गयी है। लेकिन सरकार लोगों को राहत पहुंचाने के बजाय रोजाना पेट्रोल एवं डीजल के दामों में वृद्धि कर जनता का दम निकालने पर आमादा है। पेट्रोल डीजल की बढ़ती कीमतों का असर प्रत्यक्ष व अप्रत्यक्ष रूप से खाने-पीने की वस्तुओं दाम पर पड़ता है। अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में गिरावट होने के बावजूद भी पेट्रोल एवं डीजल के दामों में प्रतिदिन वृद्धि की जा रही हैं। वरिष्ठ आप नेता नवीन कौशिक ने मूल्यवृद्धि पर चिंता व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार को मूल्यवृद्धि पर जल्द रोक लगानी चाहिए। जिससे जरूरी वस्तुओं के दामों को नियंत्रित किया जा सके। उन्होंने कहा कि यदि सरकार मूल्यवृद्धि वापस नहीं लेती है तो कार्यकर्ता सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन करने को मजबूर होंगे। जनता को राहत देने के बजाए सरकार पूंजीपतियों के हित साधने में लगी है। डा.हरवेंद्र त्यागी, वरिष्ठ रणधीर सिंह, प्रवीण सिंह, सुरेश कुमार, सुरेंद्र बिरला, विकास भारती, अरुण कुमार, रोहित पेवल, विकास बेनीवाल, ममता सिंह, मीनाक्षी, हिना आदि ने भी पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस की बढ़ती कीमतों का विरोध करते हुए बढ़े हुए दाम तत्काल वापस लेने की मांग की।