इफ्तारी की खरीददारी के लिए एक घंटे की छूट देने की मांग

 हरिद्वार। पूर्व राज्यमंत्री मकबूल कुरैशी ने जिला अधिकारी व वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक से मांग की है कि रोजेदारों को इफ्तारी की खरीददारी के लिए एक घंटे की छूट दी जाए। जिससे रोजेदार फल, खजूर व अन्य सामान खरीद सकें। गली मौहल्लों में आने वाले ठेली आदि लगाकर इफ्तारी का सामान का सामान बेचने वालों कोरोना गाइडलाईन का पालन कराते हुए छूट दी जाए। जिससे रोजेदार अपने घरों के आसपास ही खरीददारी कर सकें। इससे सोशल डिस्टेंसिंग के नियम का पालन भी हो सकेगा तथा लोग सुविधाजनक तरीके से खरीददारी कर सकेंगे। साथ ही ठेली आदि लगाकर रोजगार करने वालों का रोजगार भी चल सकेगा। मकबूल कुरैशी ने कहा कि मुस्लिम बाहुल्य क्षेत्रों में स्थानीय लोगों द्वारा भी रोजा इफ्तारी के समय की जाने वाली खरीददारी की छूट की मांग की जा रही है। जबकि पुलिस द्वारा लगातार गली मौहल्लों में चाट पकोड़ी, फल विक्रेताओं के साथ मार पिटाई के साथ साथ चालान की प्रक्रिया को भी किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि पुलिस रोजेदारों के प्रति नरमी बरते। मण्डी के कुंए के आसपास आए दिन पुलिसकर्मी हाथ ठेली, फड़ लगाने वाले लघु व्यापारियों के साथ मारपिटाई कर रही है। जिससे लोगों में गुस्सा बना हुआ है। कोविड नियमों का पालन करते हुए रोजेदारों को इफ्तारी की एक घंटे की खरीददारी की छूट गली मौहल्लों में दी जानी चाहिए। जिससे सूक्ष्म रूप से अपना काम धंधा कर रहे हाथ ठेली के लघु व्यापारियों को भी रोजगार मिल सकेगा। पुलिस के किसी के साथ भी गलत व्यवहार ना करे। उन्होंने कहा कि जल्द ही एक प्रतिनिधिमण्डल डीएम व एसएसपी से मुलाकात करेगा।