कोविड हेल्थ सेंटर में 65 मौत , जिलाधिकारी ने दिए जांच के आदेश


 हरिद्वार। कोविड के चरम काल में कोरोना से हो रही मौतों के आंकड़ों को कम दर्शाने के लिए छिपाने की कोशिश की जा रही है। हरिद्वार के डेडीकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में 24 अप्रैल से 12 मई के बीच कोरोना से हुई 65 मौतों की जानकारी को स्टेट कॉविड कंट्रोल रूम को नहीं दिया गया। बताया जाता है अस्पताल के 24 अप्रैल करो प्रारम्भ होने के बाद से अब तक करीब 900 कोविड मरीज भर्ती किये गये,जिनमें से सात सौ पचास से अधिक मरीज स्वस्थ होकर जा चुके है। इस बीच पिछले 19 दिनों के दौरान इतनी बड़ी संख्या में मौत होने को कथित रूप से छिपाया गया है। स्वास्थ्य विभाग के आला अधिकारियों की जांच के बाद मामला सामने आया। हरिद्वार के 500 बेड वाले बाबा बर्फानी अस्पताल में इससे पहले भी कई अव्यवस्थाएं सामने आ चुकी हैं। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों का कहना है कि स्टाफ की कमी के चलते डाटा अपडेट नही हुआ है। वही हरिद्वार जिलाधिकारी सी रविशंकर ने इस मामले की गहनता से जाँच करने के आदेश दिए है। हालांकि जिलाधिकारी सी रविशंकर का ये भी कहना है कि किसी खास मकसद से आंकड़े छुपाए नही गए है, बल्कि प्रारंभिक जाँच में ये सामने आया है कि अस्पताल में मरने वालों का डाटा एंट्री करने वाला डॉक्टर छुट्टी पर था इसलिए आँकड़े जारी करने में देर हुई है। वही उन्होंने ये भी कहा कि फिर भी आँकड़े समय से नही डाले गए और उनके द्वारा इस मामले की गहनता से जाँच के आदेश दिए गए है।