औद्योगिक इकाईयों के सामने आ रही समस्याओ के संबंध में जानकारी ली

 हरिद्वार। जिलाधिकारी सी0 रविशंकर ने उद्योग मित्र की आयोजित बैठक में सिडकुल मैनुफैचरर्स एसो. सिडकुल इंटरप्रिन्योर वेलफेयर एसो. बीएचईएल एन्सीलरी इण्डस्ट्रीज एसो. बहादराबाद इण्डस्ट्रीज एसो., भगवानपुर इण्ड्रीज ऐसो. आदि से सम्बंधित प्रतिनिधियो से औद्योगिक इकाईयों के सामने आ रही समस्याओ के संबंध में जानकारी ली।  बैठक में ग्रोथ सेंटर योजना हेतु प्रस्तावो पर चर्चा, जिला स्वरोजगार प्रोत्साहन एवं अनुश्रवण समिति पर चर्चा, की गयी। औद्याोगिक इकाईयों की तरफ से बैठक में औद्योगिक क्षेत्र में अतिक्रमण की समस्या, नये स्थापित होने वाले औद्योगिक क्षेत्रों के डेवलेपमेंट पर अपडेट, सुरक्षा सम्बंधि विषय, सभी औद्योगिक क्षेत्रों के सीईटीपी स्कीम, आईपी 4 व अन्य ग्रामीण मार्गो पर जाम की समस्या, टोल प्लाजा बनने से बड़े वाहनो से भगवानपुर व धनौरी मार्गांे पर जाम की समस्या के निस्तारण की मांग की। इस पर डीएम ने शीघ्र ही एनएचआई अधिकारियों के साथ टोल के सम्बंध में बैठक बुलाने के निर्देश सीडीओ को दिये। बैठक में रायपुर लकेशरी औद्योगिक क्षेत्र की पानी की निकासी की समस्या के संबंध में अवगत कराया गया कि उपजिलाधिकारी भगवानपुर के पत्र द्वारा अवगत कराया गया है कि औद्योगिक क्षेत्र रायपुर,भगवानपुर की समस्या से अवगत कराया। एसडीएम भगवानपुर ने बताया कि उक्त कार्य मा0 मुख्यमंत्री की घोषणा अनुसार रायपुर-भगवानपुर इण्डस्ट्रियल क्षेत्र में जल निकासी हेतु नाले का निर्माण किया जायेगा। बैठक में सर्वप्रथम भगवानपुर तथा रायपुर-भगवानपुर इण्डस्ट्रियल एरिया में जल निकासी हेतु सर्वेक्षण कर डीपीआर बनाने के लिए विभाग को निर्देशित किया गया है, जिस पर सर्वेक्षण का कार्य चल रहा है। सिडकुल इन्टीग्रेटेड औद्योगिक आस्थान में ठोस अपशिष्ट प्रबन्धन की समस्या पर क्षेत्रीय प्रबन्धक, सिडकुल के द्वारा पूर्व की बैठक में अवगत कराया गया कि ठोस अपशिष्ट सराय जगजीतपुर में जाकर निस्तारित किया जाता है। उक्त संबंध मंे कार्यवाही गतिमान है। औद्योगिक आस्थान रामनगर एवं सलेमपुर राजपूताना रूड़की में सड़क जीर्ण-शीर्ण अवस्था में होने तथा जल निकासी, स्ट्रीट लाईट की समस्या उठायी गयी। सहायक नगर आयुक्त नगर निगक रूड़की द्वारा अवगत कराया गया कि नगर निगम रूड़की के अन्तर्गत औद्योगिक आस्थान रामनगर, रूड़की एवं सलेमपुर राजपूताना औद्योगिक आस्थान में नियमित रूप से डोर टू डोर कूड़ा कलेक्शन के साथ-साथ नाले एवं नालियों की सफाई की व्यवस्था का कार्य चल रहा है तथा औद्योगिक आस्थानों की मांग के अनुसार स्ट्रीट लाईट की व्यवस्था की जा रही है। हरिद्वार औद्योगिक क्षेत्र में वृक्षों की शाखाओं का विद्युत लाइन को छूने से दुर्घटना की सम्भावनना होने की समस्या पर क्षेत्रीय प्रबन्धक सिडकुल द्वारा अवगत कराया गया है कि उक्त प्रकरण पर वृक्षों के पातन की प्रक्रिया गतिमान है। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी सौरभ गहरवार, अपर जिलाधिकारी केके मिश्र, महाप्रबंधक उद्योग श्रीमती पल्लीव गुप्ता, रिजनल अधिकारी पीसीबी राजेंद्र सिंह, श्रीमती सीमा नौटियाल, सुशील सैनी तहसीलदार भगवानपुर हरेंद्र गर्ग सहित अनेक उद्यमी उपस्थित रहे।