लघु व्यापारियों ने कुंभ मेला प्रशासन और सिंचाई विभाग के खिलाफ किया प्रदर्शन

हरिद्वार। स्ट्रीट वेंडर्स लघु व्यापारियों ने कुंभ मेला प्रशासन और सिंचाई विभाग द्वारा जबरन उन्हें हटाए जाने के विरोध में ठेली रैली निकालकर प्रदर्शन किया। शुक्रवार को रोड़ी बेलवाला से बिरला चैक तक अपने स्ट्रीट वेंडर्स ने कारोबारी संसाधनों के साथ जुलूस निकाला। लघु व्यापार एसोसिएशन के प्रांतीय अध्यक्ष व भाजपा नेता संजय चोपड़ा ने कहा कि कुंभ मेला प्रशासन को पूर्व में संयुक्त रूप से रेहड़ी पटरी के लघु व्यापारियों को महाकुंभ मेले के दौरान कारोबार की अनुमति के साथ समस्त मेला क्षेत्र में पार्किंग के समीप वेंडिंग जोन के रूप में स्थापित किए जाने की मांग को दोहराया जाता रहा है। नगर निगम प्रशासन द्वारा फेरी समिति की बैठकों के माध्यम से प्रस्ताव कुंभ मेला प्रशासन को दिए जा चुके हैं। उसके बावजूद स्ट्रीट वेंडर्स को अतिक्रमण बताकर कारोबार नहीं करने दिया जा रहा है। फेरी समिति के सदस्य विमल कुमार, प्रभात चैधरी, मनोज मंडल, वीरेंद्र कुमार ने कहा गंगा के घाटों पर चूड़ी, माला, बिंदी, फूल, प्रसाद बेचने वाले लघु व्यापारियों की काफी बड़ी संख्या है। जो अपने परिवार का पालन पोषण फुटपाथ पर कारोबार कर इसी प्रकार से संचालित करते आ रहे हैं। कोरोना काल को ध्यान में रखते हुए अभी तक रेहड़ी पटरी वालों का अपना कारोबार पूर्ण रूप से संचालित नहीं हो पा रहा है। ऐसे में उन्हें कारोबार न करने देने से उनका उत्पीड़न किया जा रहा है। प्रदर्शन करने वालों में सुनील कुकरेती, विजय गुप्ता, ओमप्रकाश कलियान, नईम सलमानी, सुमन गुप्ता, आशा देवी, सुमित्रा देवी, मंजू, पुष्पा दास, निशा अरोड़ा, मुन्नी देवीभरत सिंह, राधेश्याम, सतीश कुमार, पवन, अशोक कुमार शर्मा, रमेश कश्यप, गोपाल बिष्ट, अजय रावत आदि शामिल रहे।